गूगल तुम्हारा नाम क्या है, Google tumhara kya naam hai

जरा सोचिए कि यदि आपका नाम अनिल कुमार है, और यदि आपसे कोई पूछे कि अनिल कुमार आपका नाम क्या है। तो आपका जवाब क्या होगा, ठीक इसी तरह से बहुत से लोग गूगल से पूछते हैं कि गूगल तुम्हारा नाम क्या है। आपको समझना चाहिए कि गूगल का नाम गूगल ही है, Google tumhara kya name hai।

Google aapka naam kya hai

गूगल का नाम गूगल ही है, जोकि google.com domain नाम का इस्तेमाल करता है। और इसका टाइटल गूगल है, और लगभग हर कोई गूगल सर्च या फिर गूगल असिस्टेंट का इस्तेमाल करता है। जिससे कि उनको उनके सवालों के जवाब बहुत ही आसानी से मिल जाते हैं। तो ऐसे में अक्सर लोगों के मन में गूगल के बारे में अधिक जानने की उत्सुकता होती है। तो आपको पता चल गया है, कि गूगल का क्या नाम है। और यदि आप गूगल के बारे में और अधिक जानने के उत्सुक हैं, नीचे दी गई जानकारियों को पढ़ें। कि गूगल क्या है और कैसे काम करता है, इसका मालिक कौन है। या फिर अपनी कमाई कैसे करता है। Google tumhara kya naam hai।

और यदि बात हो रही है, गूगल के नाम के बारे में तो आपके लिए यह जानना थोड़ा आश्चर्यजनक होगा। कि जिस तरह से लोगों के नाम होते हैं, और एक ही नाम के कई लोग होते हैं, उस तरह से इंटरनेट इंडस्ट्री में बिल्कुल भी नहीं किया जा सकता है। जैसे कि गूगल है और इसका डोमेन नाम है google.com, तो पूरे इंटरनेट पर google.com का डोमेन नाम केवल एक ही हो सकता है। ऐसा नहीं है ऐसा करने से सरकार ने या किसी और ने रोक रखा है। बल्कि डोमेन नेम सरवर का यही सिस्टम है, एक नाम का एक ही डोमेन हो सकता है। जैसे कि कंप्यूटर या मोबाइल के फोल्डर में एक ही डायरेक्टरी में एक ही नाम से दो फोल्डर नहीं बनाए जा सकते हैं। ठीक उसी तरह से एक ही नाम से मल्टीपल इंटरनेट कंपनी यानी की वेबसाइट नहीं बनाई जा सकती है।

Google.com नाम को 15 सितंबर 1997 को खरीदा गया था, और गूगल की स्थापन 4 सितंबर 1998 को हुई थी। आपके मन में यह सवाल आना लाजमी है, कि जब 1997 में गूगल डॉट कॉम डोमेन नाम खरीदा गया था। तो 1998 में इसकी स्थापना कैसे हुई। तो इसका बहुत सिंपल सा जवाब है कि कोई भी डोमेन नाम खरीदना उस कंपनी की स्थापना करना नहीं होता है। बल्कि मुख्य काम होता है उस पर सेवाएं प्रदान करना। Sergey Brin और लैरी पेज ने 1998 में गूगल को एक सर्च इंजन के रूप में प्रस्तुत किया। जोकि कुछ ही समय में उस समय मौजूद दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन याहू को टक्कर देने लगा। और इस समय गूगल ढेर सारी सेवाओं के साथ दुनिया की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी बन गई है।

और यदि आप यही बात की गूगल तुम्हारा नाम क्या है। आप गूगल असिस्टेंट से पूछते हैं, तो आपको जवाब मिलेगा कि मैं गूगल असिस्टेंट हूं। ऐसा इसलिए है क्योंकि गूगल ने अलग से एक असिस्टेंट एप्लीकेशन को लॉन्च किया है। जोकि लोगों को कई तरीकों से अपने फोन को इस्तेमाल करने और अधिक जानकारी हासिल करने में मदद करता है। गूगल असिस्टेंट के जरिए आप बोलकर ही मैसेज कर सकते हैं, कॉल कर सकते हैं, कोई एप्लीकेशन खोल सकते हैं। सॉन्ग प्ले कर सकते हैं और विभिन्न प्रकार के कार्य कर सकते हैं।

गूगल और गूगल असिस्टेंट के बीच का सबसे बड़ा अंतर यह है, कि गूगल असिस्टेंट लोगों को कई तरह से असिस्ट करने का कार्य करता है। लेकिन गूगल असिस्टेंट उन सभी जानकारियों को गूगल सर्च इंजन द्वारा हासिल करता है। क्योंकि गूगल के पास दुनिया भर की सभी जानकारियां मौजूद हैं, जिस वजह से गूगल असिस्टेंट के जवाबों में सटीकता एकता देखी जा सकती है। यानी कि जब आप गूगल असिस्टेंट से कोई सवाल करते हैं, तो ज्यादातर सवालों के जवाब के सही जवाब आपको मिलते हैं, जिसकी वजह गूगल है।

यदि गूगल असिस्टेंट गूगल सर्च इंजन का डाटा इस्तेमाल ना करे, तो गूगल असिस्टेंट सटीक जानकारियां नहीं दे सकता है। क्योंकि गूगल पर लगातार नई और बेहतर जानकारियों के साथ आर्टिकल पब्लिश होते रहते हैं। और गूगल सर्च इंजन उसे crawl करके इंडेक्स करता रहता है। और उन जानकारियों को गूगल सर्च में प्रस्तुत किया जाता है। साथ ही साथ गूगल असिस्टेंट भी उन जानकारियों को प्रोसेस करता है। लेकिन गूगल असिस्टेंट की खासियत यह है, कि वह आपको सिर्फ वेबसाइट के सर्च रिजल्ट नहीं प्रदान करता है। बल्कि वह आपको संतोषजनक उत्तर देने का प्रयास भी करता है, जैसे कि दो लोग आमने सामने बात कर रहे हो।

Google kya kar rahe ho

यह पूछना कि गूगल तुम क्या कर रहे हो थोड़ा मजाकिया हो सकता है। लेकिन आपको काफी ज्यादा आश्चर्य हो गई है, जानकर कि गूगल हमेशा आखिर क्या कर रहा होता है। तो इतना समझ लीजिए कि गूगल 24 घंटे कार्यकर्ता रहता है, क्योंकि गूगल एक मशीन है। जिसे चलाने के लिए लगभग 150000 से अधिक लोग कार्य करते हैं। गूगल के ढेर सारे सर्वर दुनिया भर में अलग-अलग देशों में मौजूद है, जोकि 24 घंटे एक्टिव रहते हैं। और हाई स्पीड इंटरनेट से कनेक्ट रहते हैं, और जब लोग गूगल पर कुछ भी सर्च करते हैं। आप गूगल या गूगल की अन्य किसी भी सर्विस का किसी भी प्रकार से इस्तेमाल करते हैं, तो सारा का सारा डाटा गूगल के डाटा सेंटर द्वारा प्रोसेस किया जाता है। जोकि पूरी तरह से ऑटोमेटेड होता है।

गूगल का पूरा व्यापार कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से संबंधित है। गूगल की सबसे बड़ी सेवा है, गूगल सर्च इंजन, एंड्रॉयड और यूट्यूब हैं। और लगभग हर कोई गूगल की इन सेवाओं का बिल्कुल मुफ्त उपयोग करता है। तो ऐसे में आपके मन में यह सवाल आना लाजमी है, कि जब गूगल की सारी सेवाएं बिल्कुल मुफ्त हैं, तो आखिर गूगल अपने सभी डाटा सेंटर और 150000 से अधिक कर्मचारियों को कैसे मैनेज करता है। तो शायद आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि भले ही आपको यह लगता हो, कि गूगल आप के जरिए पैसे नहीं कमाता है। लेकिन गूगल अप्रत्यक्ष तरीके से आप का इस्तेमाल करके पैसे कमा लेता है।

जिसके लिए गूगल एडवर्टाइजमेंट का इस्तेमाल करता है, जैसे कि यदि आप गूगल पर कुछ भी सर्च करते हैं। तो आपको सर्च रिजल्ट में सबसे पहले कुछ एडवर्टाइजमेंट देखने को मिलते हैं। या फिर आप यूट्यूब पर वीडियो प्ले करते हैं, तो आपको एडवर्टाइजमेंट देखने को मिलते हैं। या आप अन्य अलग-अलग वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं। तो कुछ वेबसाइट यानी कि लगभग 80 से 90 परसेंट वेबसाइट पर आपको गूगल के ऐड देखने को मिल जाएंगे।

और क्योंकि इसके उपयोगकर्ताओं की संख्या बहुत अधिक है, जैसे गूगल प्रतिदिन अरबों विज्ञापन प्रदर्शित करता है। और उस गूगल के इंप्रेशन और क्लिक के आधार पर गूगल पैसे कमाता है। साथ ही साथ अन्य वेबसाइट के मालिक भी गूगल की एक दूसरी सेवा जोकि है “गूगल ऐडसेंस”। उसके विज्ञापन कंपनी का वेबसाइट पर इस्तेमाल करके पैसे कमाते हैं। इसके साथ ही गूगल अन्य कई सारी प्रीमियम सेवाएं भी प्रदान करता है। और कई हार्डवेयर डिवाइसेज भी प्रोवाइड है, हालांकि ज्यादातर लोग गूगल की फ्री सेवाएं इस्तेमाल करते हैं। लेकिन गूगल फिर भी पैसे कमा लेता है।

और गूगल एडवर्टाइजमेंट के आधार पर कार्य करता है। जिसका फायदा यह होता है कि पूरी दुनिया से कोई भी व्यक्ति बिल्कुल फ्री में गूगल और उसकी अन्य सेवाओं का इस्तेमाल कर सकता है। और लगभग प्रत्येक इंटरनेट उपयोगकर्ता गूगल का इस्तेमाल करता है। और वहीं दूसरी तरफ आप खुद से अंदाजा लगा सकते हैं। कि यदि गूगल एडवर्टाइजमेंट का इस्तेमाल ना करता बल्कि गूगल को इस्तेमाल करने के लिए सब्सक्रिप्शन लेना होता, तो इसके उपयोगकर्ताओं की संख्या कितनी कम होती।

गूगल में आपके एक क्लिक करने से सर्च रिजल्ट आपके सामने आ जाते है। जिससे आपको यह काफी ज्यादा आसान लगता होगा। लेकिन इसके पीछे की इंजीनियरिंग बहुत हार्ड है, जिसको हमेशा बेहतर बनाने के लिए गूगल कार्य करता रहता है। और आप समय-समय पर गूगल में परिवर्तन नोटिस कर सकते हैं, कि गूगल के लगभग प्रत्येक सेवा में कुछ समय पर कुछ ना कुछ परिवर्तन होता रहता है।

Google tumhara Ghar kaha par hai

गूगल पूरी तरह से कंप्यूटर प्रोग्राम पर आधारित है। और कंप्यूटर प्रोग्रामिंग कोडिंग की फाइल गूगल के सर्वर पर मौजूद होती है। और गूगल का हेडक्वार्टर माउंटेन व्यू, कैलीफोर्निया, यूनाइटेड स्टेट है। तो इस बारे में यदि आप कहें तो गूगल जिस देश की कंपनी है। वह उसका घर मान सकते हैं, यानी कि अमेरिका गूगल का घर है। या फिर दूसरे शब्दों में कहें तो गूगल के डाटा सेंटर, गूगल का घर है, जहां से संपूर्ण डाटा प्रोसेस किया जाता है।

या फिर एक तरीके से आप अपने कंप्यूटर से मोबाइल इत्यादि को गूगल का घर कह सकते हैं। लेकिन यह कहना थोड़ा अनुचित होगा, क्योंकि गूगल सिर्फ तभी कार्य करेगा जब आपका फोन इंटरनेट से कनेक्टेड रहेगा। क्योंकि जैसे ही आप इंटरनेट बंद करते हैं। आपका गूगल यूट्यूब और गूगल असिस्टेंट इत्यादि सगाई करना बंद कर देते हैं। क्योंकि आपका मोबाइल गूगल के घर यानी कि गूगल के डाटा सेंटर से कनेक्ट नहीं हो पा रहा है। और जब आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर को इंटरनेट से कनेक्ट करते हैं। और आपका डिवाइस गूगल के घर यानी कि गूगल के डाटा सेंटर से कनेक्ट हो जाता है, तो गूगल रेस्पोंड करने लगता है।

गूगल के 2 डाटा सेंटर की फोटो नीचे दिखाई गई है।

अब जब आपको पता चल गया है कि गूगल में ढेर सारी एम्पलाई कार्य करते हैं। तो हो सकता है कि आप की भी इच्छा हो कि आप गूगल में कार्य करें। तो आप बिल्कुल कर सकते हैं, लेकिन आपके लिए सबसे बड़ी चुनौती आपका एजुकेशन है। यदि आप चाहें तो यहां से गूगल में चल रही भर्तियों को चेक कर सकते हैं। और आवेदन कर सकते हैं, जोकि अलग-अलग कई देशों में जारी की जाती है। जोकि छोटे पद से लेकर बड़े पद तक होते हैं सुनिश्चित करें कि आप किस पद के लिए तैयार हैं, Google career.

इस लेख में आपने सीखा Google tumhara kya naam hai। Google tum kaha rahte ho। इत्यादि हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। यदि आपको ये लेख पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें ताकि वो भी जानकारी हासिल कर सकें की Google tumhara naam kya hai। और यदि आपको इस लेख से रिलेटेड कोई समस्या है तो आप कमेंट में उस बारे में पूंछ सकते हैं, जल्द से जल्द रिप्लाई देने का प्रयास किया जाएगा।