इंटरनेट कैसे चलाएं, internet kaise chalate hain

Internet kaise chalaye

  1. इंटरनेट कनेक्शन डिवाइस की जरूरत
  2. वेब ब्राउजर या विशिष्ट एप का इस्तेमाल करें
  3. सर्च इंजन या फोटो किसी विशिष्ट वेबसाइट का इस्तेमाल करें
  4. अपना ईमेल/वेबसाइट आईडी बनाएं
  5. ऑनलाइन खरीददारी
  6. ऑनलाइन वित्तीय लेन देन
  7. कहानियां/चुटकुले/जानकारियां/शिक्षा के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करें
  8. इंटरनेट पर फ्रॉड से बचें

Internet kaise chalaye

 

इंटरनेट कनेक्शन डिवाइस की जरूरत

सबसे पहले तो आपके पास एक ऐसा डिवाइस होना चाहिए, जोकि आपको इंटरनेट कनेक्शन प्रोवाइड कर सके। इसके लिए मुख्य रूप से लोग मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन यदि आप चाहें तो हॉटस्पॉट डिवाइस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, या फिर एक अलग से ब्रॉडबैंड/वाईफाई लगवा सकते हैं। लेकिन यदि आप सिर्फ अपने मोबाइल में अपनी पर्सनल इस्तेमाल के लिए इंटरनेट चलाना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको अलग से किसी भी वाईफाई कनेक्शन की जरूरत नहीं पड़ेगी। क्योंकि आप अपने मोबाइल के जरिए ही बहुत आसानी से किसी भी टेलीकॉम कंपनी का सिम कार्ड इस्तेमाल करके इंटरनेट चला सकते हैं।

तो सबसे पहले आप किसी ऐसी कंपनी का सिम कार्ड खरीदें और अपने मोबाइल में लगाया। और उसका इंटरनेट रिचार्ज करवाएं, और आप इंटरनेट का रिचार्ज अपनी जरूरत के हिसाब से करवा सकते हैं। हालांकि इस टाइम तो बहुत सस्ते प्लान मौजूद हैं जोकि आपको प्रतिदिन का काफी ज्यादा डाटा प्रदान करते हैं। जिसमें आपको 1GB – 3GB मिल जाता है। और 1 दिन के लिए इतना डाटा आपकी सारी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त है।

डाटा कनेक्शन चालू करें

सभी डिवाइस में डाटा कनेक्शन बंद करने और चालू करने का विकल्प होता है, तो यदि आप मोबाइल में इंटरनेट का इस्तेमाल करना चाहते हैं। या फिर मोबाइल के जरिए किसी कंप्यूटर लैपटॉप में इंटरनेट इस्तेमाल करना चाहते हैं। तो आपको अपने मोबाइल डाटा कनेक्शन को चालू करना होगा। उसके बाद आपके फोन में मौजूद सभी एप्लीकेशन इंटरनेट कनेक्शन का इस्तेमाल कर पाएंगे। और एप्लीकेशन में मौजूद सेवाओं को आप इस्तेमाल कर पाएंगे।

और यदि आप अपने मोबाइल के इंटरनेट से अपने कंप्यूटर पर इंटरनेट इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो आप अपने मोबाइल में हॉटस्पॉट चालू करके अपने कंप्यूटर में वाईफाई चालू करें। और अपने मोबाइल वाईफाई का पासवर्ड डालकर उसमें कनेक्ट कर लें।

वेब ब्राउजर या विशिष्ट एप का इस्तेमाल करें

इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए आपको किसी एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना होगा। क्योंकि बिना किसी एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर कि आप इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। फिर चाहे वह कोई ब्राउज़र हो या फिर कोई विशिष्ट एप्लीकेशन, जैसे कि व्हाट्सएप यूट्यूब फेसबुक इत्यादि। एप्लीकेशन आप चाहें तो अपने फोन में इंस्टॉल कर सकते हैं। या फिर जो आप चाहें तो ब्राउज़र के जरिए भी इंटरनेट सर्फिंग कर सकते हैं।

यदि का वीडियो देखना चाहते हैं तो यूट्यूब पर जा सकते हैं। यदि आप सोशल मीडिया का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो आप फेसबुक व्हाट्सएप इंस्टाग्राम टि्वटर इत्यादि पर अपना अकाउंट बना सकते हैं। और इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन यदि आप इंटरनेट से विभिन्न प्रकार की जानकारियां खोजना चाहते हैं। या कुछ रिसर्च करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल करना होगा। और सभी फोन में डिफॉल्ट रूप से वेब ब्राउजर इंस्टॉल रहता है, उसके अलावा सभी एंड्राइड फोन में गूगल क्रोम ब्राउजर इंस्टॉल रहता है। और ज्यादातर लोग गूगल क्रोम ब्राउजर का ही इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि यह सबसे ज्यादा सुरक्षित ब्राउज़र माना जाता है।

सर्च इंजन या किसी विशिष्ट वेबसाइट का इस्तेमाल करें

आपको आपके मन पसंद खोज के लिए सर्च इंजन का इस्तेमाल करना होगा। क्योंकि सर्च इंजन एक ऐसी वेबसाइट होती है, जोकि पूरे इंटरनेट का डाटा रखती है। और लोगों के सर्च करने पर प्रस्तुत करने का कार्य करती है, जिनमें मुख्य रुप से गूगल, बिंग और याहू सर्च इंजन है। और ज्यादातर लोग गूगल सर्च इंजन का ही इस्तेमाल करते हैं।

अपना गूगल क्रोम ब्राउजर चालू करें और सर्च बॉक्स पर क्लिक करके आप कुछ भी लिख सकते हैं। जो भी आपके मन में चल रहा होगा, आप इस बारे में जानना चाहते हैं। जैसे कि कोई भी चीज आप बनाना चाहते हैं उस बारे में जानकारी चाहते हैं। या क्या है, कैसे हो क्यों है, कितना है, वगैरह वगैरह कुछ भी जानकारी चाहते हैं। आपके मन में जो कुछ भी चल रहा है उसे गूगल क्रोम ब्राउजर में सर्च करें, और उससे रिलेटेड जानकारी में तुरंत आपको मिल जायेगी।

जब आप गूगल क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल करते हैं, तो आप डिफ़ॉल्ट रूप से आपको गूगल सर्च इंजन में सर्च रिजल्ट दिखाया जाता है। और सिर्फ गूगल क्रोम ब्राउज़र ही नहीं बल्कि आपको 95% ब्राउज़र में डिफ़ॉल्ट रूप से गूगल सर्च इंजन ही मिलेगा। हालांकि आप उसे चाहे तो बदल भी सकते हैं, या फिर आप चाहे तो डायरेक्ट bing.com या फिर yahoo.com खोलकर भी उसमें सर्च कर सकते हैं। लेकिन यदि आप ज्यादा सटीक परिणाम चाहत तो आप गूगल सर्च इंजन का इस्तेमाल करें।

सर्च इंजन को आप उदाहरण के तौर पर समझ सकते हैं, कि यदि आप किसी विशिष्ट वेबसाइट पर जाते हैं। मान लीजिए कि wikipedia.org तो आपको इस पर सिर्फ कुछ विशिष्ट आर्टिकल ही मिलेंगे। लेकिन यह आपकी सभी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाएंगे। क्योंकि यदि आप किसी वैकेंसी के बारे में जानना चाहते हैं, या फिर किसी सोशल मीडिया वेबसाइट को स्थान देना चाहते हैं, या फिर कोई Joke पढ़ना चाहते हैं। तो इनमें से सभी जानकारियां को विकिपीडिया पर नहीं मिलेगी। या फिर आप जितनी भी अलग-अलग वेबसाइट पर जाएंगे उन पर आपको अलग-अलग तरह के कंटेंट मिलेंगे। लेकिन यदि आप किसी सर्च इंजन जैसे कि google.com, bing.com या फिर Yahoo.com का इस्तेमाल करते हैं। तो आपको सभी प्रकार की जानकारियां मिल जाएंगी, फिर आप चाहे उसमें कुछ भी सर्च करें।

अपना ईमेल/वेबसाइट आईडी बनाएं

हम आपको अपना एक ईमेल अकाउंट बनाना होगा, क्योंकि ज्यादातर इंटरनेट की सेवाएं ई-मेल पर आधारित होती हैं। जैसे कि यदि आप गूगल के किसी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको जीमेल अकाउंट की जरूरत पड़ेगी। या फिर आप फेसबुक इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको अपना फेसबुक अकाउंट बनाना पड़ेगा। या फिर व्हाट्सएप या फिर कोई भी वेबसाइट इस्तेमाल करना हो तो ज्यादातर वेबसाइट के लिए आपको अपना अकाउंट बनाने की जरूरत पड़ेगी। जिसका कंट्रोल पूरी तरह से आपके हाथ में होता है, आप चाहे तो उसे बाद में डिलीट भी कर सकते हैं।

हालांकि आप बिना अकाउंट के लिए एक साइट का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन उस कंडीशन में आप उस वेबसाइट के सभी फीचर का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। क्योंकि सभी पिक्चर के एक्सेस के लिए आपके पास उस वेबसाइट का अकाउंट होना जरूरी होता है। और फेसबुक, व्हाट्सएप जैसी सोशल एप्लीकेशंस को आप बिना अकाउंट के बिल्कुल भी इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं।

ऑनलाइन खरीददारी

ऑनलाइन खरीदारी में भी इंटरनेट का है बहुत बड़ा योगदान है। अक्सर ऐसा होता है कि सभी चीजें हमें हमारे करीब मार्केट में नहीं मिल पाते हैं। तो ऐसे में आप ऑनलाइन खरीददारी की तरफ जा सकते हैं। और ज्यादातर लोग इस टाइम ऑनलाइन शॉपिंग को बहुत ज्यादा पसंद कर रहे हैं, ऐसे में आप कोई भी सामान खरीद सकते हैं। जिसके लिए आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। बस इंटरनेट के जरिए शॉपिंग वेबसाइट जेजीकेजे अमेजॉन फ्लिपकार्ट इत्यादि। वेबसाइट का इस्तेमाल करके शॉपिंग करना होगा, और उस प्रोडक्ट डिलीवरी लगभग 4 से 5 दिन में आपके घर पर हो जाएगी। और उसका भुगतान आप पहले भी कर सकते हैं, और चाहे तो बाद में भी कर सकते हैं।

और ऑनलाइन शॉपिंग पूरी तरह से सुरक्षित है। लेकिन बहुत सारे लोगों को ऑनलाइन शॉपिंग की सही जानकारी नहीं होती है, कि ऑनलाइन शॉपिंग कैसे करना चाहिए। जिस वजह से वह बहुत से धोखेबाज सैलरी के चक्कर में फस जाते हैं, और उन्हें नकली प्रोडक्ट या प्रोडक्ट के स्थान पर ईंट और पत्थर मिलते हैं। इनसे बचने के लिए एक बार आप ऑनलाइन शॉपिंग की सही जानकारी जरूर हासिल करें। ताकि आपके साथ कभी भी किसी भी तरह की धोखेधडी ना हो।

ऑनलाइन वित्तीय लेन देन

इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन वित्तीय लेनदेन करना बहुत आसान हो गया। जिसके लिए अब आपको बैंक ब्रांच जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। बस आपके पास आपके बैंक अकाउंट का डेबिट कार्ड होना चाहिए। और आप घर बैठे हैं सभी प्रकार के लेन देन कर सकते हैं। यहां तक कि आप विदेश से भी लेनदेन कर सकते हैं, जिसके लिए ढेरों कंपनियां मौजूद हैं। हालांकि विदेश से वित्तीय लेनदेन के लिए आपको काफी ज्यादा जानकारी हासिल करनी होगी। और कई अलग-अलग कंपनी की वेबसाइट पर अकाउंट बनाना होगा। लेकिन यदि आप अपने देश के अंदर ही किसी भी तरह के वित्तीय लेनदेन करना चाहते हैं। तो उसके लिए आपके पास आपके बैंक का डेबिट कार्ड हो तो आप आसानी से लेन देन कर सकते हैं।

कहानियां/चुटकुले/जानकारियां/शिक्षा के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करें

इंटरनेट के माध्यम से आप वह सब कुछ हासिल कर सकते हैं, जोकि आपको किताबों से मिलता था। जैसे की कहानियां चुटकुले या शिक्षा के क्षेत्र में कुछ भी इसके लिए आपको किसी भी तरह का सब्सक्रिप्शन नहीं देना होगा। ज्यादातर चीजें आपको इंटरनेट पर फ्री में मिल जाएगी, आप जो भी पढ़ना चाहते हैं देखना चाहते हैं। उस बारे में सर्च करें आपको गूगल सर्च रिजल्ट में वह कंटेंट मिल जाएगा।

इंटरनेट पर फ्रॉड से बचें

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इंटरनेट पर बहुत ही ज्यादा फ्रॉड होता है। जिस वजह से अभी आप बिना किसी जानकारी के इंटरनेट पर ज्यादा छेड़खानी करते हैं, तो हो सकता है कि आप किसी फ्रॉड के शिकार हो जाएं। और आपका काफी ज्यादा नुकसान हो जाए, खासकर आपको तब ज्यादा सतर्क रहना होगा। जब आप इंटरनेट के जरिए कोई कार्य करते हैं, जोकि आपका फाइनेंशली मदद करता हो। अन्यथा आपकी एक भूल आपका बैंक अकाउंट भी खाली कर सकता है। या फिर आपका मोबाइल हैक हो सकता है या आपकी कॉल वगैरा रिकॉर्ड की जा सकती है, या हो सकता है, कि कोई भी व्यक्ति आपकी एक्टिविटी पर नजर बनाए रखे हो। हालांकि ऐसा कोई भी व्यक्ति डायरेक्ट नहीं कर सकता है, बल्कि वह ऐसा सिर्फ तभी कर सकता है। जब आप गलती से कुछ करते हैं जैसे कि आपके फोन में कोई वायरस होना, या किसी malicious लिंक पर क्लिक करना इत्यादि।

इस लेख में आपने सीखा internet kaise chalaye। हमें उम्मीद है ये जानकारी internet kaise chalaye आपके लिए उपयोगी साबित होगी।